Lyrics तुमने भी ठुकरा ही दिया है दुनिया से भी दूर हुए - Ustad Nusrat Fateh Ali Khan Collection
Searching...
Dear NFAK Lovers if you found any broken link please Inform.

Lyrics तुमने भी ठुकरा ही दिया है दुनिया से भी दूर हुए

daraz grand baby fair on nusrat collection
The Legend Ustad Nusrat Fateh Ali Khan Qawwal
तुमने भी ठुकरा ही दिया है दुनिया से भी दूर हुए [Lyrics]
Posted by Nusrat Collection 
Lyrics तुमने भी ठुकरा ही दिया है दुनिया से भी दूर हुए
[Video] [MP3] [Roman] [Gurmukhi] [Download]

तुमने भी ठुकरा ही दिया है
दुनिया से भी दूर हुए
अपनी अना के सारे शीशे
आखिर चकना-चूर हुए

हमने जिन पर ग़ज़लें सोची
उनको चाहा लोगों ने
हम कितने बदनाम हुए थे
वो कितने मशहूर हुए

तर्क-इ-वफ़ा की सारी कसमें
उनको देख के टूट गई
उनका नाज़ सलामत ठहरा
हम ही ज़रा मजबूर हुए

एक घडी तो रुक कर पुछा
उसने तो अहवाल मगर
बाकी उम्र ना मुड कर देखा
हम ऐसे मगरूर हुए

अब के उनकी बज़्म में जाने का ‘मोहसिन’ गर इजन मिले
ज़ख्म ही उनकी नज़र गुजारें
अश्क तो ना-मंजूर हुए
Embed Code [Copy and Paste Code Where You Want]
Video
<script type="text/javascript"><!--
google_ad_client = "ca-pub-7105599396460731";
/* Nusrat Banner */
google_ad_slot = "1942697416";
google_ad_width = 468;
google_ad_height = 60;
//-->
</script>
<script src="//pagead2.googlesyndication.com/pagead/show_ads.js" type="text/javascript">
</script>
Tags:

0 comments:

Post a Comment

Thanks For Comment